Wednesday, July 30, 2014

COCKTAIL जिंदगी की






कभी खुशी कभी गम की COCKTAIL है जिंदगी 


हर मोड़ पर मिलते आंसुओं और कभी आँसुओं में मिलती खुशी का मेल है जिंदगी 


कभी हो मुट्ठी में बंद, शांत चलती है जिंदगी 

कभी रेत की तरह फिसल जाती ये जिंदगी


कभी चमकते सितारों में ढूंडा जिंदगी को
कभी हाथ की लकीरों में 

कभी दूर रहकर भी पास थे जिंदगी के
कभी पास रहकर भी मिल ना पाए

कभी Google पे search करते मिल जाती जिंदगी 
कभी FACEBOOK पर हाथ मिला पाती जिंदगी 

कभी Cricket के IPL में मिल जाती जिंदगी 
कभी किताबों में फिर खो जाती जिंदगी 

जिंदगी की ये आँख मिचोली कभी समझ ना आई 
बस जिंदगी से मिलने की वो तड़प हमेशा बाकी रह गयी 

कभी Dominos में Pizza खाती मिल जायेगी ये जिंदगी
कभी 10 रूपए का Burger खाती भी मिल जायेगी ये जिंदगी 

यकीं ना आये तो देखना कभी 
किसी Bar, Pub या Disco में 
किसी हाथ में उठे गिलास में बनी COCKTAIL में मिल जायेगी ये जिंदगी 
                                      
                                       -कुमार 

No comments:

Post a Comment